Special SMS [Poetry SMS Hindi]

Added 1 year ago

हैं मोरनी सी आंखें, बदन दूध सा ।
नागिन सी जुल्फें, मुखड़ा चांद सा।। *
आवाज में खनक, दिल को सकूॅ दे।
मैं करता हूँ सजदा, तू मुझे प्यार दे।। *
आगे बढ़ चुका हूं, पीछे न लौट पाऊंगा ।
गर मंजिल न मिली, मैं खाख हो जाऊंगा।। *
वक्त का क्या पता, कहाॅ होंगी मुलाकातें ।
चंद दिनों की जिंदगी, कहाॅ होंगी ये बातें ।। *
दुआ है यह मेरी, कि तुम ऐश से रहना ।
इन्तजा इतनी, कभी अलविदा न कहना ।। *

HeartLike SMS #69 - SMS Length: 936
|
Added 1 year ago

दिल से नहीं निकलता जो वो ख्याल हो तुम,
उस खुदा की रचनाओं में बेमिसाल हो तुम।
खुदा से बढ़कर तो नहीं पर कम भी नहीं हो,
जिसमें खुद फँसना चाहें वो ही जाल हो तुम।
गुलाब की पंखुड़ियों सा नाजुक बदन लिए हो,
आईने से पूछ लेना रुप सौंदर्य का ताल हो तुम।
चाँद की चाँदनी का नूर भी तुम्हीं से कायम है,
उगते सूरज की लालिमा से भी लाल हो तुम।

HeartLike SMS #59 - SMS Length: 824
|
Added 1 year ago

बरसो कि चाहत को संजोये रक्खा हूँ मै ,
टूट कर चाहा है तुझे झूठ नहीं कहता हूँ मै ]
तुम्हारे प्यार को हमने अपना गरूर समझा ,
इसीलिए तुमपर नाज़ करता रहता हूँ मै ]]
तेरे बज्मे चिरागा में हजारो ख्वाहिशे जलती होंगी ,
कभी आंसू कभी आहे कभी नगमे देखता हूँ मै ]
मेरे प्यार पे एतबार नहीं इसलिए डरती हो ,
क्या तेरी नज़र में एतबार के काबिल लगता नहीं मै

HeartLike SMS #43 - SMS Length: 851
|
Added 1 year ago

पढ़ने को दिल की इबारत,
नही होती लफ़्ज़ों की ज़रूरत !
नज़रें ही काफ़ी हैं पढ़ने को,
ऐसा कोई चेहरा खूब सूरत!!
कोई हल्का सा शिकन भी,
शिकवा भी पता चलता है!
हो जाए अगर तेरी एक,
उड़ती हल्की सी ज़ियारत !!

HeartLike SMS #37 - SMS Length: 496
|
Added 2 years ago

फिर तेरे इंतज़ार की इन्तिहाँ हो गई,
फिर तेरे आगोश मैं छिपने का एहसास हुआ...
फिर तेरे पास न होने का दर्द हुआ...
तेरे एहसास और दर्द ने एक अजीब सी..
खोमोशी का रूप ले लिया,
इस खामोश दर्द मैं अक्सर
तेरे एहसास का होना...
फिर अचानक से तुम्हारा दूर जाना..
जहा मैं हूँ तेरी खुश्बू है, तेरा एहसास है..
और तुझे न पाने की कसक...!!

HeartLike SMS #46 - SMS Length: 787
|
Added 2 years ago

तुम्हारी चाहत है कि कोई गज़ल लिखूं तुमपर ।
पर शब्द ही नहीं होठो पे होते कभी मयस्सर ॥
देख कर तुमको दिल में अजीब सा होता है ।
तुम्हारे लिये कोई गज़ल लिखने को दिल करता है ॥
ये दिल बड़ा अजीब है कुछ भी समझ पाता नहीं ।
तुम्हारी याद आते ही कूछ भी याद रहता नहीं ॥
जब तुम हँसती हो लजाती और शरमाती हो ।
घटाएँ प्रेम की मेरे बंजर से दिल पे बरसाती हो ॥
कहने को है बहुत मगर होंठ जुम्बिश कर जाते है ।
तुम्हारी याद आते ही न जाने क्यों मौन हो जाते है ॥

HeartLike SMS #40 - SMS Length: 1101
|
1 2 3 4 5 Next »

Jump to Page